मंगलवार, 7 जुलाई 2009

इन्द्रधनुषी ज़िन्दगी

एक मुट्ठी ज़िन्दगी
आसमां में उछाल दी...



मिला
इन्द्रधनुष!

8 टिप्‍पणियां:

‘नज़र’ ने कहा…

बढ़िया रचना है

---
नये प्रकार के ब्लैक होल की खोज संभावित

ओम आर्य ने कहा…

bahut hi jindgi ke karib

Dhiraj Shah ने कहा…

khubsurat rachana

Udan Tashtari ने कहा…

बहुत सही!

मुनीश ( munish ) ने कहा…

uttam !

मुसाफिर जाट ने कहा…

मुनीश की तरह लिख रहा हूँ.
उत्तम

awaz do humko ने कहा…

बढ़िया रचना है

विनय (Viney) ने कहा…

आप सभी का धन्यवाद!